তেঁতুলের পার্শ্ব প্রতিক্রিয়া: এই 6 টি অসুবিধাগুলি অনেক সুবিধা সহ তেঁতুলের থেকে হয়!


তেঁতুলের পার্শ্ব প্রতিক্রিয়া: এই 6 টি অসুবিধাগুলি অনেক সুবিধা সহ তেঁতুলের থেকে হয়!

তেঁতুলের পার্শ্ব প্রতিক্রিয়া তেঁতুলের মধ্যে প্রচুর পরিমাণে ভিটামিন ক্যালসিয়াম ফসফরাস আয়রন ম্যাঙ্গানিজ এবং ফাইবার থাকে। এটি শরীরকে অনেক রোগ থেকে রক্ষা করে।

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। তেঁতুলের পার্শ্ব প্রতিক্রিয়া: इमली के खट्टे-मीठे स्वाद ही वजह है कि इसके नाम लेने पर ही सबके मुंह में पानी आ जाता है। शायद ही कोई हो जिसे इमली न पसंद हो। भारतीय खाने में इमली का इस्तेमाल भी कई तरह के खानों में किया जाता है, जैसे- गोलगप्पे, साम्भर, चटनी यहां तक कि कई दालों में भी इमली डाली जाती है। खासकर दक्षिण भारतीय व्यंजनों में मसालों में काफी आम है। इसके अलावा, इमली का इस्तेमाल कई गंभीर बीमारियों से निजात पाने के लिए भी किया जाता है। 

इमली कई तरह के पोषक तत्वों से भी भरपूर होती है, जैसे विटामिन-सी और विटामिन-ए। इसके अलावा इमली में कैल्शियम, फॉस्फोरस, आयरन, मैंगनीज़ और फाइबर जैसे तत्व की भी अच्छी मात्रा पाई जाती है। इसकी मदद से हमारे शरीर को पीलिया, आंखों की समस्या, सर्दी-ज़ुख़ाम और वज़न कम करने में मदद मिलती है।

इमली की तासीर ठंडी होती है। यह आपके शरीर में ठंडक पहुंचाती है। अगर इमली को नियमित मात्रा में खाया जाए, तो ये आपके शरीर के लिए काफी अच्छी मानी जाती है। आपने इमली के फायदे कई सुनें होंगे लेकिन क्या आप इससे होने वाले नुकसान के बारे में जानते हैं? 

आज हम इस आर्टिकल के ज़रिए इमली से होने वाले नुकसान के बारे में बताएंगे जो आप शायद ही जानते हों।

1. गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इमली के अधिक सेवन से बचना चाहिए, नहीं तो इसके दुष्परिणाम हो सकते हैं।

2. जिन लोगों को इमली से एलर्जी होती है, उन्हें इसे खाने से त्वचा पर चकत्ते, खुजली, सूजन, उल्टी, चक्कर जैसी तकलीफें होती हैं। 

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

यह भी पढ़ें

3. इमली में खून को पतला करने वाले गुण पाए जाते हैं। इसलिए, अगर आप खून को पतला करने वाली किसी दवा का सेवन कर रहे हैं, तो इमली का उपयोग बिल्कुल न करें।

4. जिन लोगों को गले में खराश की समस्या रहती है, उन्हें इमली जैसे अत्यधिक अम्लीय खाद्य पदार्थओं से दूर रहना चाहिए।

5. डायबिटीज़ के मरीज़ों, जो इंसुलिन या शुगर संबंधित दवा का उपयोग करते हैं, उन्हें इमली का उपयोग करते समय अतिरिक्त सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

ওজন হ্রাসের জন্য আজওয়াইন: আপনি যদি ওজন হ্রাস করতে চান তবে এভাবে সেলারি ব্যবহার করুন

ওজন হ্রাসের জন্য আজওয়াইন: আপনি যদি ওজন হ্রাস করতে চান তবে এভাবে সেলারি ব্যবহার করুন

পড়াও

6. इमली के प्रयोग से ब्लड शुगर कम होता है। इसलिए, किसी भी सर्जरी से करीब दो हफ्ते पहले से इमली का प्रयोग बंद कर देना चाहिए। हो सकता है कि इसके उपयोग के कारण सर्जरी के बाद ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में मुश्किल आए।

মন্তব্য করুন

আপনার ই-মেইল এ্যাড্রেস প্রকাশিত হবে না। * চিহ্নিত বিষয়গুলো আবশ্যক।