দিওয়ালি 2019: উত্সব শেষে দেহকে অক্সিজাইফাই করার জন্য এই 5 টি উপায় অনুসরণ করুন


দিওয়ালি 2019: উত্সব শেষে দেহকে অক্সিজাইফাই করার জন্য এই 5 টি উপায় অনুসরণ করুন

দিওয়ালি 2019 কে দিওয়ালির ব্যস্ততার মাঝে স্বাস্থ্যের যত্ন নেয়। যা পরবর্তীতে সমস্যার কারণ হয়ে দাঁড়ায়। এই ক্ষেত্রে, শরীরকে ডিটক্সাইফাই করা খুব গুরুত্বপূর্ণ। কীভাবে জানবেন?

फेस्टिवल में हेल्थ के बारे में सोचने की किसे ही फुर्सत होती है उस वक्त तो बस तरह-तरह के स्वादिष्ट जायके सामने नजर आते हैं जो पेट तो भर देते हैं लेकिन मन नहीं। दिवाली का फेस्टिवल दिन से चार दिनों तक चलता है ऐसे में हर दिन कुछ न कुछ पकवान बनते ही रहते हैं।   लगातार दो से तीन दिनों तक तली-भुनी चीज़ें खाने से मोटापा तो बढ़ता ही है साथ ही पाचन भी बिगड़ जाता है। जिसके लिए फिर दवाइयों का सहारा लेना पड़ता है। तो आज हम आपको बताएंगे कैसे दिवाली बाद आप घर में ही बॉडी को कर सकते हैं डिटॉक्सीफाई।   

दिन की शुरूआत नींबू पानी के साथ

छोटी-छोटी चीजों की शुरूआत से बड़े बदलाव किए जा सकते हैं और बात जब हेल्थ की हो तो ऐसी शुरूआत मजबूरी नहीं, जरूरी होते हैं। तो दिन की शुरुआत गुनगुने पानी में नींबू और शहद के साथ करें। सुबह नींबू-शहद मिला पानी पीने से शरीर में मौजूद सारी गदंगी बाहर निकल जाती है। इसके अलावा वजन घटाने के लिए भी नींबू-शहद मिला पानी पीना बहुत ही कारगर होता है। पाचन क्रिया सुधारने के साथ ये हार्टबर्न, खट्टी डकार और गैस वगैरह की प्रॉब्लम से भी राहत दिलाता है।

भरपूर मात्रा में करें सलाद का सेवन

कच्ची सब्जियों और फ्रूट्स जैसे खीरा, गाजर, मूली, टमाटर, प्याज, संतरा, पपीता और सेब की ज्यादा से ज्यादा मात्रा अपनी डाइट में शामिल करें। बिना पकी हुई चीज़ें खाने से पेट बहुत ज्यादा भरा हुआ नहीं लगता और बॉडी के टॉक्सिन्स बहुत तेजी से रिमूव होते हैं। 

प्रोसेस्ड फूड को कहें ना

फेस्टिवल में तली-भुनी चीज़ें खाने से वैसे ही बॉडी में काफी सारे टॉक्सिन्स जमा हो चुके होते हैं तो इन्हें निकालने के लिए अपनी डाइट से चीनी, कार्बोहाइड्रेट और प्रोसेस्ड फूड को एकदम हटा दें। चाय, कॉफी पी रहे हैं तो इसमें भी शुगर न डालें, स्वाद के लिए शहद का इस्तेमाल कर सकते हैं। बची हुई मिठाइयों को खत्म करने की जगह उन्हें किसी को दे दें। पूरी, पकौड़ी, समोसा खाने में तो बहुत स्वादिष्ट लगते हैं लेकिन सेहत के लिए ये बिल्कुल अच्छे नहीं होते। एक ही बार बहुत ज्यादा खाने से बेहतर कि छोटी-छोटी मील लें। साबुत अनाज में फाइबर अच्छी-खासी मात्रा में मौजूद होता है तो इनका सेवन जरूरी करें।

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

यह भी पढ़ें

एक्सरसाइज़ शुरू करें

बॉडी को डिटॉक्सीफाई करने के लिए एक्सरसाइज़ करें। हां, बस इसके लिए अच्छे-खासे पैसे खर्च कर जिम जाने की जरूरत नहीं। महज वॉकिंग, जॉगिंग और लिफ्ट की बजाय सीढ़ियों का इस्तेमाल भी इसके लिए फायदेमंद रहेगा।

घर में बना खाना खाएं

होटल, रेस्टोरेंट में बनने वाली डिशेज में मसालों से लेकर तेल, चीनी और नमक की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। स्वाद बढ़ाने के लिए और कई दूसरी चीज़ों का भी इस्तेमाल किया जाता है लेकिन हेल्थ के लिए ये बिल्कुल भी अच्छे नहीं होते। तो फेस्टिवल के बाद बॉडी के टॉक्सिन्स दूर करने के लिए बाहर का खाना बिल्कुल न खाएं। इसकी जगह घर पर खिचड़ी, दलिया, छाछ जैसे चीज़ों का सेवन करना फायदेमंद रहेगा।       

 

মন্তব্য করুন

আপনার ই-মেইল এ্যাড্রেস প্রকাশিত হবে না। * চিহ্নিত বিষয়গুলো আবশ্যক।