कब्ज की परेशानी से चाहिए जल्द छुटकारा, तो डाइट में शामिल करें ये चीज़ें


कब्ज की परेशानी से चाहिए जल्द छुटकारा, तो डाइट में शामिल करें ये चीज़ें

कब्ज की समस्या से आज हर दूसरा व्यक्ति परेशान है। वैसे तो इसका इलाज संभव है लेकिन लापरवाही और गंभीर रूप ले सकती है लेेकिन खानपान में बदलाव करके आप आसानी से इससे पा सकते हैं निजात।

लगातार बैठे रहने, भरपूर मात्रा में पानी न पीने और सिगरेट- एल्कोहल का ज्यादा सेवन कब्ज की वजह बन सकते हैं। इससे मल त्याग में बहुत परेशानी होती है साथ ही कई बार खून भी निकलता है। कब्ज की अनदेखी और कई दूसरी बड़ी समस्याएं पैदा कर सकती है। एक्सरसाइज के साथ सही खान-पान अपनाकर काफी हद तक इस समस्या को दूर किया जा सकता है। जानेंगे ऐसे फूड्स के बारे में… 

सेब

सेब में भरपूर मात्रा में फाइबर मौजूद होता है। सेब को छिलके के साथ खाना ज्यादा फायदेमंद होता है। एक मीडियम साइज (182ग्राम) सेब में 4.4 ग्राम फाइबर मौजूद होता है। जो फाइबर आसानी से हमारी बॉडी में घुल जाता है वही फायदेमंद होता है और यही पाचन क्रिया को भी दुरुस्त रखता है। 

नाशपाती

नाशपाती में भी भरपूर मात्रा में फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट्स और विटामिन्स मौजूद होते हैं। जो डाइजेशन के साथ ही हमारी बॉडी के लिए भी बहुत ही जरूरी और फायदेमंद न्यूटिएंट्स हैं। कब्ज की परेशानी से जूझ रहे हैं तो नाशपाती को आज ही अपनी डाइट में शामिल करें और फर्क देखें।

बेरी

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

यह भी पढ़ें

एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर बेरीज़ को सुपरफूड भी कहा जाता है। इसके साथ ही इसमें और भी कई तरह के न्यूट्रिएंस पाए जाते हैं। आधे कप ब्लैक बेरी या रसबरी में लगभग 4 ग्राम फाइबर मौजूद होता है।

ওজন হ্রাসের জন্য আজওয়াইন: আপনি যদি ওজন হ্রাস করতে চান তবে এভাবে সেলারি ব্যবহার করুন

ওজন হ্রাসের জন্য আজওয়াইন: আপনি যদি ওজন হ্রাস করতে চান তবে এভাবে সেলারি ব্যবহার করুন

পড়াও

बादाम

स्नैक्स में चिप्स, बिस्किट, नमकीन की जगह पिस्ता, मूंगफली, बादाम और अखरोट को करें शामिल। ये फाइबर का बहुत ही अच्छा स्त्रोत होते हैं। आप चाहें तो इन्हें दही, सलाद और दूध में भी मिक्स कर खा सकते हैं। फाइबर के साथ ही इनमें अच्छी-खासी मात्रा में प्रोटीन भी मौजूद होता है। 

বিশ্ব প্রতিবন্ধী দিবস 2019: যত্নের এই পদ্ধতিগুলি অবলম্বন করে বাচ্চাদের পথ সহজ করে দিন

বিশ্ব প্রতিবন্ধী দিবস 2019: যত্নের এই পদ্ধতিগুলি অবলম্বন করে বাচ্চাদের পথ সহজ করে দিন

পড়াও

पालक

ঘুমের অভাবে হার্ট অ্যাটাক হতে পারে: ঘুমের ব্যর্থতা হার্ট অ্যাটাকের ঝুঁকি বাড়িয়ে দিতে পারে!

ঘুমের অভাবে হার্ট অ্যাটাক হতে পারে: ঘুমের ব্যর্থতা হার্ট অ্যাটাকের ঝুঁকি বাড়িয়ে দিতে পারে!

পড়াও

डाइजेशन को सही रखने के साथ ही कब्ज से निजात पाने में पालक का सेवन रहेगा फायदेमंद। एक कप पालक में लगभग 4 ग्राम फाइबर मौजूद होता है। इसके अलावा इसमें मैग्नीशियम और कई तरह के मिनरल्स भी होते हैं। सब्जी से अलावा इसे सूप, रोटी, सलाद किसी भी तरह खा सकते हैं।    

জাতীয় দূষণ নিয়ন্ত্রণ দিবস 2019: বাড়ির সৌন্দর্য বাড়ানোর পাশাপাশি এটি দূষণ থেকে দূরে রাখবে, এই অন্দর গাছগুলি

জাতীয় দূষণ নিয়ন্ত্রণ দিবস 2019: বাড়ির সৌন্দর্য বাড়ানোর পাশাপাশি এটি দূষণ থেকে দূরে রাখবে, এই অন্দর গাছগুলি

পড়াও

ब्रोकली

हरी सब्जियां विटामिन्स, प्रोटीन्स और फाइबर का खजाना होती हैं। खाने में ज्यादा से ज्यादा हरी सब्जियों की मात्रा डाइजेशन को बनाती है चुस्त-दुरुस्त। महज एक कप ब्रोकोली खाकर आप 5 से 6 ग्राम फाइबर की पूर्ति कर सकते हैं।

प्रेग्नेंसी में होने वाले मूड स्विंग्स से निबटने का सबसे आसान उपाय है योग, जानें अन्य फायदे

प्रेग्नेंसी में होने वाले मूड स्विंग्स से निबटने का सबसे आसान उपाय है योग, जानें अन्य फायदे

यह भी पढ़ें

बीन्स

अगर आप कब्ज की समस्या से परेशान हैं तो बीन्स को भी आप अपनी डाइट का हिस्सा बनाएं। इसमें घुलनशील और अघुलनशील दोनों तरह के फाइबर मौजूद होते हैं। 

फ्लैक्स सीड्स

चिया सीड्स और फ्लैक्स सीड्स फाइबर का खजाना होते हैं। इन्हें आप दही, स्मूदी और सलाद किसी में भी मिक्स कर खा सकते हैं। जो पेट से जुड़ी परेशानियों को दूर करने के साथ ही कब्ज की समस्या को भी करता है दूर।

  

 

মন্তব্য করুন

আপনার ই-মেইল এ্যাড্রেস প্রকাশিত হবে না। * চিহ্নিত বিষয়গুলো আবশ্যক।